Physics chapter-1 विद्युत आवेश तथा क्षेत्र

Physics chapter- 1 विद्युत आवेश तथा  विद्युत क्षेत्र

 

 

1. दो चालकों के बीच आवेश के वितरण से होने वाली ऊर्जा की हानि निर्भर करती है–

(A) विभवांतर के

(B) विभवांतर के वर्ग पर

(C) धारिता पर

(D) धारा के वर्ग पर

Answer- B

2. एक बिंदु आवेश को एक दूसरे बिंदु आवेश के चारों तरफ वृत्ताकार पथ पर घुमाया जाता है तो विद्युत क्षेत्र द्वारा किया गया कार्य होगा-

(A)धनात्मक

(B) 0

(C) ऋण आत्मक

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer- B

3. आवेश का S.I मात्रक होता है–

(A) एंपियर

(B) फैराडे

(C) कुलंब

(D) वोल्टे

Answer- C

4. आवेश की विमीय सूत्र क्या है?

(A) [AT]

(B)[LAT]

(C)[AT-1]

(D)[AT-2]

Answer-A

5. इलेक्ट्रॉन पर आवेश होता है

(A_) 2 × (10)-12C

(B) 1.6 × (10)-19C

(C) 1.6 × ( 10)19

(D) इनमें से कोई नही

Answer- B

 

6. निम्नलिखित में किस का अस्तित्व संभव नहीं है-

(A) 3.2 × (10)-19C

(B) 6.4 × (10)-19C

(C) 2.4 × (10)-19

(D) 1.6 ×( 10 )-19

Answer-C

7. स्थिर विद्युत आवेशों के बीच लगता बल किस नियम से दिया जाता है-

(A) गौस का प्रमेय

(B) किरचॉफ के नियम

(C) कुलम के नियम

(D) फैराडे के नियम

Answer- C

8. दो आवेशों के बीच की दूरी दोगुनी करने के बीच का बल–

(A) दोगुना हो जाता है

(B) आधा हो जाता है

(C) 4 गुना हो जाता है

(D) चौथाई हो जाता है

Answer- D

9.  1 एक कूलाम आवेश है जो शून्य में 1 मीटर की दूरी पर स्थित सामान आवेश पर बल लगाता है-

(A)  1N

(B) 9× (10)-9

(C)9× (10)9

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-C

 

comig soon

जल्द आ रहा है और सभी महत्वपूर्ण से महत्वपूर्ण प्रश्न तब तक आप लोग जितना भी दिया जाता है सभी को एक दो बार जरूर पढ़ लिया कीजिए कहा जाता है–

मेहनत के बिना कुछ भी नहीं होता है|                      मेहनत के सामने सब कुछ होता है

 

10. मुक्त आकाश (Free space) की परावैद्युतता (E ू) होती है—

(A) 9 × 10 mF

(B) 8.85 x (10)-12 Fm-¹

(C) 1.6 x 10-19 C

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-B

 

 11. राशि 1/4πEo का मान होता है-

(A) 9 × (10)9 Nm² C-2

(B) 8.85 x (10)-12 Nm² C-2

(C) 9x (10)-9 Nm² C-2

(D) zero (शून्य)

Answer-A

12. किसी माध्यम की आपेक्षिक परावैद्युतता (Er) बराबर होती है—

(A)€/€०

(B) EXEq

(C) E + E०

(D) E – Eo

Answer-A

13. विद्युतशीलता (x) का मात्रक होता है

(A) न्यूटन / मी० ( Nm -1 )

(B) कूलम्ब/वोल्ट (CV-1)

(C)फैराडे / मी ० ( Fm – 1 )

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer- C

14. किसी विद्युतीय क्षेत्र में किसी बिन्दु पर परीक्षण आवेश (test charge ) q० पर लगा विद्युत बल हो F तो उस बिन्दु पर विद्युत तीव्रता (E) होगी ।

(A) E = E/q०

 (B) E = q०F

(C) E = F/q०2

(D) E = q०2F

Answer-A

15. विद्युत क्षेत्र की तीव्रता (Electric field intensity) का मात्रक होता है

(A) न्यूटन/कूलम्ब (NC)

(B) न्यूटन / कूलम्ब (NC-1)

(C) वोल्ट / मी० ( Vm )

(D) कूलम्ब / न्यूटन (CN-1)

Answer-B, C

16. विद्युत् क्षेत्र की तीव्रता की विमा है—

(A) [MLT-2A-1]

(B) [MLT-3 A−1]

(C) [ML2T±A±]

(D) [ML±T-3A-±]

Answer-A

 

17. समरूप विद्युत् क्षेत्र की तीव्रता E हो तब इसमें रखे गए +q आवेश पर लगा बल होगा

 (A) F = q E

(B) F =E/q

(C) F = q2E

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

 

NextChapter

 

18. एक बिन्दु – आवेश Q से r दूरी पर विद्युत् क्षेत्र की तीव्रता का परिमाण होता है—  

(A) 1/4π€०  . |Q|/r

 (B) 1/4π€०  . |Q|/r2

 (C) 1/4π€०  . |Q2|/r

(D) 1/4π€०  . Qr2

Answer-B

19. एक प्रोटॉन एवं इलेक्ट्रॉन को समान विद्युत् क्षेत्र में रखा जाता है

(A) उन पर लगा विद्युत् बल बराबर होंगे

(B) विद्युत् बलों के परिमाण बराबर होंगे

(C) उनके त्वरण. बराबर होंगे

(D) उनके त्वरण के परिमाण बराबर होंगे

Answer-B

20. निम्नलिखित में कौन सदिश राशि है ?

(A) आवेश

(B) धारिता

(C) विद्युत्-तीव्रता

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-C

21. विद्युत्- विभव का मात्रक वोल्ट है और यह तुल्य है

(A) जूल x कूलम्ब

(B) जूल/कूलम्ब

(C) कूलम्ब/जूल

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-B

22. साबून के एक बुलबुले को जब आवेशित किया जाता है तो उसकी त्रिज्या

(A) बढ़ती है

(B) घटती है

(C) शून्य हो जाता है

(D) अपरिवर्तित रहती है

Answer-A

 

23. विद्युत द्वि- ध्रुव आघूर्ण का SI मात्रक होता है।

(A) कूलम्ब × मी० (Cxm)

(B) कूलम्ब/मी० 2 (Cxm)

(C) कूलम्ब x मी० 2 (Cxm 2 )

(D) कूलम्ब x मीटर (C2xm)

Answer – A

 

24. पाँच विद्युतीय द्विध्रुव, जो प्रत्येक -+q आवेश से बना है। r दूरी से पृथक् है, घिरे पृष्ठ में रखा जाता है । पृष्ठ के ऊपर कुल फ्लक्स होगा—

(A) 10πq

(B) 5πq

(C) 20πq

(D) शून्य

ANSWER- D

25. तीन बिन्दुओं 4q, Q तथा q एक सरल रेखा पर क्रमश: O, तथा 1/2 दूरी पर रखे (1) हैं । यदि आवेश q पर परिणामी बल शून्य है तो Q का मान होगा—

(A) -q

(B) -2q

(C) 2 -q

(D) 4q

Answer-A

 

26. एक समान विद्युत् क्षेत्र में द्विध्रुव पर आरोपित बल युग्म आघूर्ण अधिकतम है जबकि द्विध्रुव की अक्ष तथा क्षेत्र की दिशा के बीच का कोण है

(A) शून्य

(B) 180°

(C) 90°

(D) 45°

Answer-B

अगला चैप्टर देखें

 

27. यदि किसी अल्प क्षेत्र dA पर विद्युतीय तीव्रता E अभिलम्ब हो, तब उस क्षेत्र पर विद्युत फ्लक्स होगा—

(A) E.dA

(B) EdA cose

(C) zero (शून्य)

(D) EdA sine

Answer-A

28. किसी घिरे सतह पर कुल विद्युत् फ्लक्स पृष्ठ के भीतर स्थिर कुल आवेश का

(A) 1/€० गुना होता है

(B) ∈ ू गुना होता है

(C) 1/ 4π गुना होता है

(D) शून्य होता है

Answer-A

29. किसी आवेशित समतल चादर के नजदीक विद्युत् तीव्रता E का मान होता है—

(A) ९/€००

(B) σ /2 Eo

(C) o x Eo

(D) शून्य

Answer-B

 

30. किसी आवेशित चालक के नजदीक विद्युत् तीव्रता E का मान होता है—

(A) σ /€०

(B) £/2π€०r

(C) £ /4π€०r

(D) शून्य

Answer-A

Note-  (σ) इसे सिग्मा पढ़ा जाता है)

 

31. किसी आवेशित बेल के नजदीक किसी बिंदु पर विद्युत् तीव्रता E का मान होता है 

(A) λ/ 2 E0

(B) λ/2π€०r

(C)  λ/ 4π€०r

(D) शून्य

Answer-B

 

32. एक विद्युत् द्वि- ध्रुव एक पृष्ठ से घिरा हुआ है। पृष्ठ पर कुल फ्लक्स होगा

(A) अनंत

(B) शून्य

(C) आवेश पर निर्भर

(D) द्विध्रुव की स्थिति पर निर्भर

Answer-B

 

33. किसी वस्तु पर 1 कूलम्ब आवेश तब संभव है जब उससे निकाले गए इलेक्ट्रॉनों की संख्या होगी

(A) 6.25 × (10)-19

(B) 6.25 × (10)19

(C) 6.25 x (10)18

(D) 6.25 × (10)-10

Answer-B

34. P आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव  विद्युतीय क्षेत्र E के साथ 90° का कोण बनता है, तब इस पर लगा बल आघूर्ण

(A) px E→→

(B) p. E

(C) pE

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

सभी important ही है

 

35. P आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र E के साथ 90° का कोण बनता  तब इस पर लगा बल आघूर्ण

(A) PE

(B) शून्य

(C) PE

(D) 2pE

Answer-A

 

36. P आघूर्ण वाला द्विध्रुव अधिकतम बल आघूर्ण तब अनुभव करेगा P तथा E के बीच कोण हो—

(A) 0°

(B) 90°

(C) 30°

(D) 60°

Answer- B

 

37. एक वैद्युत द्विध्रुव के केन्द्र से 100cm की दूरी पर दो बिंदु A तथा B स्थित हैं । A अक्षीय बिंदु है जबकि B निरक्षीय । वैद्युत क्षेत्र की तीव्रता A पर E है । तब B पर तीव्रता होगी →

(A) E

(B) 2 E (

C) -E

(D)  – (E)2/ 2

Answer-D

 

38. दो वैद्युत क्षेत्र रेखाएँ एक-दूसरे को किस कोण पर काटती है ?

(A) 90°

(B) 45°

(C) 30°

(D) नहीं काटती हैं

Answer-D

39. विद्युत आवेश का क्वांटम e.s. u. मात्रक में होता है

(A) 4.78 × (10)-10

(B) +1.6 × (10)-19

(C) 2.99 × 109

(D) – 1.6 ×10-19

Answer-A

 

40. एक विद्युतीय द्विध्रुव दो विपरीत आवेशों से बना है जिनके परिणाम +3.2 × 10-9 C एवं – 3.2 × 10-9 C हैं और उनके बीच की दूरी 2.4 x 10-10 m है । विद्युतीय द्विध्रुव का 100 आघूर्ण है—

(A) 7.68×(10)-24C-m

(B) 7.86 x (10)-29 C-m

(C) 7.68 × (10)-29 C-m

(D) 7.86 ×10-27 C-ma

Answer- C

41. स्थिर विद्युतीय क्षेत्र होता है

(A) संरक्षी

(B) असंरक्षी

(C) कहीं संरक्षी तथा कहीं असंरक्षी

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

42. मूलबिंदु पर एक धन बिन्दु आवेश Q स्थित जबकि x = 2 cm पर एक बिन्दु धन आवेश 20 स्थित है—

(A) आवेशों के निकट x – अक्ष के बाहर स्थित बिन्दु पर वैद्युत क्षेत्र शून्य हो सकता है

(B) आवेशों के निकट x – अक्ष के बाहर स्थित बिन्दु पर वैद्युत क्षेत्र की तीव्रता महत्तम हो सकती है

(C) आवेशों के बीच किसी बिन्दु पर वैद्युत क्षेत्र की तीव्रता शून्य हो सकती है

(D) आवेशों के बाहर निश्चित बिन्दुओं पर क्षेत्र की तीव्रता शून्य हो सकती है

Answer-C

 

43. एक वैद्युत द्विध्रुव को वैद्युत क्षेत्र में रखा जाता है जो y-अक्ष पर दिष्ट है, x – अक्ष की जाने पर बदलता है पर एवं z-अक्ष की ओर अचर रहता है। यदि द्विध्रुव x अक्ष स्थित तो कुल बल

(A) x – अक्ष की ओर होगा

(B) 2- अक्ष की ओर होगा

(C) y-अक्ष की ओर होगा

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

44. एक ही पदार्थ के धातु के दो गोले A तथा B दिये गये हैं । एक पर +Q आवेश तथा दूसरे पर -Q आवेश दिया गया है—

(A) A का द्रव्यमान बढ़ जाएगा

(B) B का द्रव्यमान बढ़ेगा

(C) द्रव्यमान पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

(D) इनमें कोई नहीं

Answer-B

45. इलेक्ट्रॉन का विशिष्ट आवेश होता है

(A) 1.8 × (10)-11  C/kg

(B) 1.9 x (10)-19 C/kg

(C) 1.8 x (10) – 19 C/kg

(D) कोई नहीं

Answer-A

46. डिबाई मात्रक है—

(A) आवेश का

(B) विभव का

(C) विद्युत द्विध्रुव आघूर्ण का

(D) कोई नहीं

Answer-C

47. एक आवेशित चालक की सतह के किसी बिन्दु पर विद्युतीय क्षेत्र की तीव्रता

(A) शून्य होती है

(B) सतह के स्पर्शीय होती है

(C) सतह के लंबवत् होती है

(D) सतह के 45° पर होती है

Answer-C

48. 1 कूलॉम आवेश बराबर होता है

(A) 3 x (10)9 e.s.u.

(B) 9 x (10)9 e.s.u.

(C) 8.85 × (10)-12 e.s.u

(D) कोई नहीं

Answer-A

49. यदि गोले पर आवेश 10 uC हो, तो उसकी सतह पर विद्युतीय फ्लक्स है

(A) 36π × (10)4 Nm2/C

(B) 36π × (10)-4Nm/C

(C) 36π x (10)6 ‘Nm/C

(D) 36m x 100 Nm/C

Answer-A

 

मेहनत यदि लग्न से हो

तो सफलता चरण मेंमें होगा

50. किसी आवेशित गोलिय खोखले चालक के भीतर विद्युत तीव्रता होती हैं–

(A) अनंत

(B) 0

(C) धनात्मक एवं एक से अधिक

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-B

51. एक पिण्ड पर आवेश लिखा जाता है Q=ne, जहाँ e = 1.6 × (10)-19 C जहाँ n का मान है—-

(A) 0, 1, 2, 3, …..

(B) 0,±1,±2,±3,….

(C) 0, -1, -2, -3,

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-B

52. एक विद्युत क्षेत्र में एक द्विध्रुव को X- अक्ष के समान्तर रखा जाता है। द्विध्रुव पर बल –

(A) X- अक्ष के अनुसार होगा

(B) शून्य होगा

(C) X- अक्ष पर लंब होगा

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

53. एक विद्युत क्षेत्र में एक द्विध्रुव का आघूर्ण p=pi है । इस पर लगता बल आघूर्ण होगा

(A) z-अक्ष की ओर

(B) – अक्ष की ओर

(C).x- अक्ष की ओर

(D) x <a

Answer-A

54. X- अक्ष पर x = 0 पर q तथा x = a पर 2q आवेश रखे हैं। E का मान शून्य होगा— 

(A) इनमें से कोई नहीं

(B) 0 <x <a

(C) x <a

(D) x > a

Answer-C

 

55. X- अक्ष पर x = 0 पर q तथा x = a पर 2q आवेश रखे हैं। आवेश q से N1, तथा आवेश 2q से N2 क्षेत्र रेखाएँ निकलती हैं। तब N /N₂ होगी

(A) 1

(B) 2

(C) 4

(D)  1/2

Answer-D

56. किसी वस्तु पर आवेश की न्यूनतम मात्रा कम नहीं हो सकती।

(A) 1.6 x (10)-19 C

(C) 4.8 x (10)-19 C

(B) 3.2 x (10)-19 C

(D) 1C

Answer-A

57. जब कोई वस्तु ऋणावेशित हो जाता है तो इसका द्रव्यमान क्या होता है-

(A) घटता है

(B) बढ़ता है

(C) वही रहता है

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-B

58. किसी वस्तु पर आवेश का कारण है

(A) न्यूट्रॉन का स्थानांतरण

(B) प्रोटॉन का स्थानांतरण

(C) इलेक्ट्रॉन का स्थानांतरण

(D) प्रोटॉन तथा न्यूट्रॉन दोनों का स्थानांतरण

Answer-C

59. विद्युतीय क्षेत्र का विमीय सूत्र है

(A) [MLT-3A-1]

(C) [MLT-A-¹]

(B) [MLTA -2]

(D) [MLTA2]

Answer-A

 

 

60. 1 स्टैट कूलाम=… 

(A) 3 × (10)9

(B) 3 × (10)-9

(C) = 3× (10)2

(D) 1/3 × (10)9 

Answer-D

61. एक आवेशित चालक का क्षेत्र आवेश घनत्व ९ है। इसके पास विद्युत क्षेत्र का मान होता है

 (A) 2σ /Eo 

 (B) σ /Eo

(C) σ /3 E0

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-B

62. 1 कूलॉम आवेश बराबर होता है- Ο

(B) 3 × (10)9 e.s.u.

(A) 3 x 10 e.s.u.

(C) 8.85 × (10)12 e.s.u.

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

63. किसी आवेशित खोखले गोलाकार चालक के भीतर विद्युतीय तीव्रता का मान होता है

(A) Ego

(B) σ Eo

(C) शून्य (Zero)

(D) Eo 2

Answer-C

64. वायु में एक-दूसरे से 30 cm की दूरी पर स्थित दो आवेशित कणों के आवेश क्रमशः 2 x (10)-7 C तथा 3 x (10)-7 C हैं। इनके बीच लगते बल का परिमाण है—

(A) 6mN

(B) 10mN

(C) 8 mN

(D) इनमें से कोई नहीं

Answer-A

65. राशि Ke2 /Gmemp जहाँ संकेत सामान्य हैं, का विमीय सूत्र है-

(A) [ML TA]

(B ) [ MLT A ]

(C) [M°L°T°A° ]

(D) [ MLT A ‘]

Answer-C

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
The team at WTS provides professional services for the development of websites. We have a dedicated team of experts who are committed to delivering high-quality results for our clients. Our website development services are tailored to meet the specific needs of each project, ensuring that we provide the best possible solutions for our clients. With our extensive experience and expertise in the field, we are confident in our ability to deliver exceptional results for all of our clients.

क्या इंतज़ार कर रहे हो? अभी डेवलपर्स टीम से बात करके 40% तक का डिस्काउंट पाएं! आज ही संपर्क करें!