You are currently viewing Bihar Board 11th annual exam- 2023 ।। Geography Original Question paper  download Link-

Bihar Board 11th annual exam- 2023 ।। Geography Original Question paper download Link-

Bihar Board 11th annual exam- 2023 ।। Geography Original Question paper download Link-

 

प्रिय छात्रों आप सभी का स्वागत है इसमें पोस्ट में आज किस पोस्ट में भूगोल का सभी प्रश्न उत्तर देखने को मिलेगा। बताते चलें अभी सभी सरकारी विद्यालयों में 11वीं कक्षा का फाइनल परीक्षा लिया जा रहा है.

 

जिसमें सभी विषय का प्रश्न पत्र आउट हो चुका है और आप उसे देखने के लिए नीचे जाइए सभी विषय को देख सकते हैं उत्तर के साथ आपको दिया गया है। 

 

 

 

Teligram join Now
WhatsApp join Now
Facbook page click Here

 

 

 

Geography Original Question paper download Link-

 

 

 

 

खण्ड-ब (विषयनिष्ठ प्रश्न)

भूगोल (Geography)

लघु उतरीय प्रश्न

(Q. 1) उत्तर- वह भूगोल शब्द का प्रयोग करने वाले पहले व्यक्ति थे और उनके पास ग्रह की एक छोटी-सी धारणा भी थी जिसने उन्हें पृथ्वी की परिधि निर्धारित करने में मदद की। S

(Q.3) उत्तर- संस्कृत का ‘स्थान’ फ़ारसी में ‘स्तान’ हो जाता है. इस तरह हिन्द के साथ जुड़ कर हिन्दुस्तान बना है । SS

(Q.6) उत्तर- भूकंपीय छाया क्षेत्र क्या है? जहाँ कोई भी भूकंपीय तरंग अभिलेखित नहीं होती। ऐसे क्षेत्र को भूकंपीय छाया क्षेत्र कहा जाता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि भूकंप अधिकेंद्र से 105° और 145° के बीच का क्षेत्र दोनों प्रकार की तरंगों के लिए छाया क्षेत्र है।

(Q.7) उत्तर – जीवविज्ञान व भूगोल की वह शाखा, जिसमें जीव समुदायों का उसके वातावरण के साथ पारस्परिक संबंधों का अध्ययन किया जाता हैं। उसे “पारिस्थितिकी(Ecology ) ” कहते है।

(Q.8) उत्तर- वायुराशि हवा का वह घना भाग है जिसका ताप एवं आर्द्रता एक समान एवं समतल हो। कुछ निश्चित स्थानों पर वायुमंडल में हवाओं की सामान्य गति के कारण वायु की विशाल राशि एकत्र हो जाती है

(Q.9) उत्तर- महाराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात, और मध्य प्रदेश में पाई जाती है और इस मिट्टी में मैग्नेशियम,चूना,लौह तत्व तथा कार्बनिक पदार्थों की अधिकता होती है।

 

(Q.10) उत्तर भारत में पाई जाने वाली पाँच प्रकार की प्राकृतिक वनस्पतियाँ उष्णकटिबंधीय सदाबहार वन, उष्णकटिबंधीय पर्णपाती वन, उष्णकटिबंधीय कांटेदार वन, पर्वतीय वन और मैंग्रोव वन हैं।

(Q. 11) उत्तर- यह केरल में और कर्नाटक के तटीय क्षेत्रों में गर्मियों के अंत में होने वाली मानसून से पहले की वर्षा होती है। इन्हें आम्र वर्षा के रूप में जाना जाता है। आम के जल्दी पकने में सहायता करने के कारण इन वर्षा को आम्र वर्षा के रूप में जाना जाता है।

(Q.12) उत्तर- हिमालय पर्वत की उत्पत्ति के पश्चात उसके दक्षिण तथा प्राचीन शैलों से निर्मित प्रायद्वीपीय पठार के उत्तर में, दोनो उच्च स्थलों से निकलने वाली नदियों सिंधु गंगा ब्रह्मपुत्र आदि द्वारा जमा की गई जलोढ़ मिट्टि के जमाव से उत्तर के विधाल मैदान का निर्माण हुआ हैं।

(Q.13) उत्तर- ये तो आप जानते ही हैं कि पृथ्वी का 71 प्रतिशत हिस्सा पानी से ढका हुआ है. 1.6 प्रतिशत पानी ज़मीन के नीचे है और 0.001 प्रतिशत वाष्प और बादलों के रूप में है. पृथ्वी की सतह पर जो पानी है उसमें से 97 प्रतिशत सागरों और महासागरों है जो नमकीन है और पीने के काम नहीं आ सकता हैं।

खण्ड ‘स’ (दीर्घ उत्तरीय प्रश्न )

(Q.21) उत्तर- हिमालय की नदियाँ बारहमासी होती हैं जबकि प्रायद्वीपीय नदियाँ

मौसमी होती हैं और प्रायः मानसून में प्रवाहित होती हैं। हिमालयी नदियाँ अपने विकास क्रम में नवीन हैं और नवीन वलित पर्वतों के मध्य प्रवाहित होती हैं, जबकि प्रायद्वीपीय नदियाँ प्रौढ़ावस्था में हैं और प्रायद्वीपीय पठारों से होकर प्रवाहित होती हैं हिमालयी नदियों और प्रायद्वीपीय नदियों के बीच अंतर यह है कि हिमालयी नदियाँ बारहमासी हैं, जबकि प्रायद्वीपीय नदियाँ मौसमी नदियाँ हैं। भारतीय नदियाँ मुख्य रूप से हिमालयी और प्रायद्वीपीय समूहों में विभाजित हैं। हिमालय की नदियाँ बारहमासी हैं, जिसका अर्थ है कि वे पूरे वर्ष पानी से भरी रहती हैं

(Q. 22) उत्तर. हिमालय पर्वत

● प्रायद्वीपीय पठार

• उत्तर का विशाल मैदान

• समुद्रतटीय मैदान

. मरुस्थलीय भाग

• द्वीपसमूह

भारत का विशाल मैदान

इन्हें गंगा व ब्रह्मपुत्र का मैदान भी कहते हैं। यह मैदान पश्चिम में सिंधु नदी से लेकर पूर्व में ब्रह्मपुत्र नदी तक फैला हुआ है। यह एक समतल मैदान है तथा इसके उच्चावच में बहुत कम अंतर है। यह मैदान पूर्व से पश्चिम तक लगभग 3,200 किलोमीटर लंबा तथा लगभग 150 से 300 किलोमीटर चौड़ा है।

(Q.23) उत्तर- ग्रीनहाउस प्रभाव या हरितगृह प्रभाव (greenhouse effect) एक

प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसके द्वारा किसी ग्रह या उपग्रह के वातावरण में मौजूद कुछ गैसें वातावरण के तापमान को अपेक्षाकृत अधिक गर्म बनाने मदद करतीं हैं। इन ग्रीनहाउस गैसों में कार्बन डाई आक्साइड, जल वाष्प, मिथेन आदि शामिल हैं। वायुमंडल मे उपस्थित कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) और जलवाष्प आदि पृथ्वी से परावर्तित होने वाली उष्मीय प्रभाव वाली अवरक्त किरणो को अवशोषित कर लेती है जिससे वायुमंडल का सामान्य तापमान बढ़ जाता है

madhav Nce

 

Geography pdf Question- Click Here

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply